कच्ची उम्र की कामुकता Part 3

‘डेंजर ज़ोन’ मे बैठा आमिर , जितना गुत्थी सुलझाने की कोशिश करता गुत्थी सुलझाने के बजे और उलझ जाती, वो समझ नही पा रहा था, ये रिंकू आख़िर कौन हो सकती हैं……उसका रश्मि के साथ क्या चक्कर है…..उसका नीलू वेल केस से कोई ताल्लुक है, भी या नही…या रश्मि का और उसका कोई और ही चक्कर है……रिंकू का पता लगाए बगैर, वो इस गुत्थी को नही सुलझा पाएगा…..जब काफ़ी मशक्कत के बाद भी कुच्छ हाथ नही लगा तो उसने, राजपूत को फोन लगाया…….उही, बेध्यानी मे…..
“कहो भाई राजपूत, क्या हलचल हैं……कुच्छ लगा हाथ…..तुम्हारे जो आदमी हॉस्पिटल मे तैनात थे, उनसे …..कोई काम की बात..?”
“यार आमिर…कुच्छ तो लगा, कितना महत्वपूर्ण है…बता नही सकता……नीलू के साथ जो हादसा हुआ…लगता है….अग्रवाल की कोठी पे हुआ….कोई साफ कुच्छ नही कहता, लेकिन…दबी ज़बान मे कहा रहे है, ….जिस दिन सुबह नीलू को अस्पताल मे दाखिल किया गया था…कहते हैं…उसी सुबह, अग्रवाल की कोठी से तड़के ही फोन आया था…….अब अग्रवाल जैसे नामी हस्ती की कोठी से फोन आया तो…आंब्युलेन्स तुरंत भेजी गयी……यहा कुच्छ लोगो का मानना है…वाहा कोई पार्टी ज़रूर हुए थी…..जो शायद रात भर चली थी….कई लड़के, लड़किया देखी, जो नशे की हालत मे धुत्त थे….अब बड़े लोगो की बड़ी बाते जान कर, कोई कुच्छ बोला नही…बस नीलू को आंब्युलेन्स मे डाल कर ले आए…”

“लेकिन ये पार्टी दी किसने थी…..क्या खुद अग्रवाल ने…?
“नही यार…..अग्रवाल की पार्टी मे ‘बच्चो’ का क्या काम……ये पार्टी तो उसकी बेटी…रिंकू अग्रवाल ने दी थी….ऐसा…..
“क्या…क्या कहा…किसने दी थी….फिर से बोल….!”…….आमिर की आँखे हज़ार वॉट के बल्ब की तरह चमकने लगी…..उसे विश्वास नही हो रहा था, उसकी परेशानी, इतनी जल्दी हल हो जाएगी.

“कहा ना रिंकू अग्रवाल ने…..क्यू ये नाम सुन कर तू इतना एक्शिट क्यू होगआया…!”
“अभी नही मेरे शेर,…बाद मे, …..बाद मे आकर तुझे बतौँगा, की हम रोकडे के कितने नज़दीक हैं……फिलहाल तेरे मूह मे बियर की बोतल…बाइ..!”…..और आमिर ने फोन काट दिया

यह कहानी भी पड़े  या तो आज या फ़िर कभी नहीं

हहुऊन्न्ञन्….तो ये बात है….अग्रवाल की कोठी पर रात भर पार्टी चली,…..जो रिंकू ने दी थी…….जसमे नीलू और रश्मि भी शामिल थी……जहा रात भर, शराब, कबाब, और शबाब, लूटते रहे…रत भर मौजमेला जारी रहा,,,और उसी दौरान, कुच्छ हुआ…….श्यद नीलू को नशा करा के बलात्कार….?…..या उसके कोई बाय्फ्रेंड ने गद्दारी की हो…….नीलू को लूटवाया हो…….लेकिन जो भी हुआ हो,.. हुआ तो नशा और सेक्स का अतिरेक से ही…….जिससे नीलू इश्स हालत मे पहुचि……..लेकिन रश्मि के साथ क्या हुआ…वो तो भली चांगी है……वो क्यू रिंकू से डर रही हैं……..क्या खिचड़ी पाक रही है, उन दोनो मे……….रश्मि की ऐसी कौन सी दुखती राग लग गयी रिंकू के हाथ मे, जो वो रश्मि को अपने इशारो पे नाचा रही है……,अब ये बात, या तो रिंकू बता सकती है, या रश्मि……..रिंकू को पुछने का तो कोई सवाल ही नही पैदा होता……अब बाकी बची रश्मि…..

उसने अब तुरंत रश्मि से मिलने का फ़ैसला किया……उससे किस तरह बात करनी हैं, ये वो अच्छी तरह जान गया था.

____________________

“कुकु’स गुआरगे पब” ये वो जगह थी, जो टीन एज, यंग जान्रेशन का तीर्थक्षेत्रा थी,… जहा जाना जिनकी जिंदगी का अहम काम था…….कुच्छ का तो ख्वाब था, कम से कम एक बार…”कुकु’स गुआरगे पब” मे जाए, वाहा के माहौल मे, कुच्छ पल बिताए, और अपनी जिंदगी को धान्या बनाए…….लेकिन ये हर किसी के लिए संभव नही था……….वाहा एंट्री सिर्फ़, सदस्यो के लिए सुरक्षित थी, सदस्या अपने साथ सिर्फ़ एक या दो गेस्ट ला सकते थे………वो भी बड़ी तगड़ी फीस भरकर……..अंदर का माहौल, अपने नाम को सार्थक करता था…..हर तरफ बिखरे पड़े….गाडियो के अवशेष,…दीवारो पर टाँगे टाइयर, ट्यूब्स, स्टेआरिंग वील्स, हॉर्न्ज़…..जहा वाहा लिखा था…..ओक…टाटा…बाइ बाइ….फिर मिलेंगे……दिलरुबा देल्ही वाली……हॉर्न प्लीज़…..जो कुच्छ भी ट्रक, कार, बस, टेंपो से संभँढित था, उसीका इस्तेमाल वाहा इंटीरियर डेकोरेशन के लिए किया गया था………एक जगह पे तो ये भी लिखा था………’मेरा भारत महान’

यह कहानी भी पड़े  मेरी सहेली की मम्मी की चुत चुदाइयों की दास्तान-1

हर तरफ, सिगरेट्स का धुआ छाया रहता था…….ड्रग्स की, नशे की हर किस्म वाहा मिलती थी……..सिर्फ़ जेब भारी, और सामने वाला किसी बड़े बाप की, या ‘पवरफुल’ हस्ती की औलाद हो……और वो जीने के लिए ओक्षिगें नही कार्बन-दी-ऑक्साइड लेता हो…!

इसी पब की सम्मानित सदस्या थी हमारी रिंकू..!
उसके लिए एक खास कॉर्नर हमेशा रिज़र्व्ड रहता था, उसे सर्विस देने वेल, बड़ी फुर्ती से ुआस्का ऑर्डर पूरा करते थे……और उसे अपने साथ, कितने भी गेस्ट लाने की छूट थी,………लेकिन आज रिंकू का मूड ठीक नही था….वो काफ़ी पी चुकी थी….मूह से रश्मि को गालिया बक रही थी…..
“स्साली हरामी,…..उसके ‘पीरियड्स’ चल रहे हैं….तो क्या उसकी गंद से भी खून निकलता है…..आ नही सकती…..5 दीनो तक नही आ सकती…….मुझे डाल मे कुच्छ कला नज़र आ रहा है……..उसकी हिम्मत इतनी बढ़ गयी…..वो मुझे सीखा रही है……मैं उसे बर्बाद कर दूँगी” रिंकू ना जाने क्या क्या अनापशनाप बेक जा रही थी.
उसके पालतू कुत्ते, मॉंटी,रोमी,और लकी….अपनी ‘मालकिन’ के सामने कन गिराए, पुच्छ दबाए, बैठे थे.
“मैं उसकी सीडी नेट पर डाल दूँगी……पूरे शहर मे बाट दूँगी…..उसे छ्चोड़ूँगी नही..!”……रिंकू की बकबक कम होने का नाम नही ले रही थी

कहने को तो वो अपने रिज़र्व्ड टेबल पर बैठी थी……….लेकिन कोई था…….जिसके कान खड़े हुए
“लेकिन रिंकू…..क्या तुमने सोचा हैं…..उस सीडी मे सिर्फ़, रश्मि ही नही, हम सब भी हैं…….और तो और….नीलू वाला वाक़या…….
“चुप साले हरामी मॉंटी……अपना मूह बंद रख…..मैने उस सीडी मे से, हमारा पार्ट एडिट करा दिया है……ओरिजिनल सीडी कही महफूज रखी है”

Pages: 1 2 3 4 5 6 7

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


सामूहिक merivasnaसंजू जी की चुदाई खुले खेत में मोठे लुंड से गुंडों से मस्त छुड़वाईसोती हुई के पीछे गुसा दीया कहानीsavita bhabi ke gand marvane ke khani xxx bhosi me se bahan ka gngbng Dekha 5 larko sy desi sex storyhttps://otkrivashki.ru/teatroporno/park-wali-bhabhi-ke-sath-car-sex/dubai se aai DiDi ki chuai bhibdi sex storybidhwa bhabhi ki malis aur bedroom me chodai xxxvideosMami ka dard mitaya xxx storyसिमा की च**** की कहानी.commaptram.dot.comxxx ghachak ghachak chudai jabarjastiमैं मेरी सहेली ने मेरी चूत चुदाई गैर मर्द के मोटे लुंड सेRita bhabi dud pilya sex khaniyaदीदी की स्टेज सो में पैंटी देखिcudai ki khaniya in hindi by railchudaistorypatnido bahno ki chudai huibhosra ka moot pelane ki sex stori hindiroj chodwati thi uncle sePorn with hindi kahani with ristomaचूतमुसलमान लड़की की सलवार उतार कर चोदाजितना खेत में चोदने वाले बेब सेक्सma bate kisecy kshaniNeha ke samuhik sex story part 4 Hindi dab baris me chudai xxxगाँव की बुआ की चुदाई कहानियाँमो सी की चूतगाव वाली चचेरी bhabhi ko chodaमूत चुदाई की कहानियाँWWW आम SAXY story.comबुरChchi shikaya sex hindi.ट्रेन में पापा से चूत चुदाईbhabhi ko payal gift ki hindi kahanichaya vala sa chudai antarvasna.coaisehichodo.rajsharma.comkirayedarin sexstoriदीदी की स्टेज सो में पैंटी देखिnind ka bahana krke bade land se chudwati rahi hindi sex kahaniरिश्ते की सेक्स कहानियांMummy ke najayaj sambandh antarvasnaसाधु बाबा ने Blackmail करके चोदा Antarvasna. com. hindi meindian masoom kunwari jawaan bhanji ki chut chaati hindi sex stories आँखों से कोसों दूर थी। अचानक अरूण ने मेरी ओर करवट ली और बोले, “पानी दोगी क्या, प्यास लगी है !” मैं उठी और अरूण के लिये पानी लेने चली गई। वापस आई तो अरूण जग चुके थे और मेरे हाथ से पानी लेकर पीने के बाद मुझे खींचकर फिर से अपने पास बैठा लिया और अपना सिर मेरी गोदी में रखकर लेट गये। मैं उनके बालों को सहलाने लगी, मैंने देखा उनका लिंग मूर्छा से बाहर आने लगा था उसमें हल्की हलपीरियड में आंटी छोड़ाकुँवारी बहन के बोबेbhabhi kuchut aor land ki six video aor batejhonpdi me bahan k sath ghmasan chudayi kiyaचूत मेँ लंडantarvasna in hindi new सामूहिक चुदाईमस्त गरम चडाई कहानियाँMavshi malish sex marathi kathaMadam ko class me choda antervasnaचोद और तेज रंडी मादरचोद छिनालआआआआहह।maa bahan bhahai aur patne ko ek saath jamkar chodakirayedarin sexstoripani me tierna sikhane ke bhane chodaPapa ne nangi photo khiche storiesपुचा पुचिची कथाodiabhabisixeबहन ने गाड़ मारना सिखायाxxxgiral farind Hindiट्रैन मैं भाई बहन की चुदाईDelhi ki moti bua ke naukar ke sath sexy videomooslim ladhke ka land choosa sex kahaniBahan ki bagal ke bal se pagal huaa bhai xxx story Jatiya ki chudai kahaniMAMMI NE BHRPUR SECX KIYA DO BETO SEबारसात मे बुर की चोदईpanchagani me biwi ki chudaiChachi ko chacha ke samne choda2अरे बेटा बुर को चुस के पेल कहानी राज शर्माजवान बेटी को चोदना सिखायाचुदाई photo