हवालात मे चुदाई

“वह… क्या idea दी है तूने. अभी बात में time वास्ते नही करने का… अभी
काम करने का…”

“साहेब छोडो मुझे.”

“क्या बोली तुम. चोदो मुझे,” बड़ी बेशर्मी से हँसते हुये थानेदार बोला.

“ऐसी गंदी बात करते हुये तुम्हे शरम नही आती…” मैंने वीरोध कीया.

“अच्छा तुझे मालूम है की क्या गंदी है और क्या अच्छी. यानिके तुझे सुब
मालूम लगता है. चोदो… चुदाई… सुब मालूम है तुझे,” बड़ी बेशर्मी से
बोलता जा रहा था.

मैंने अपने कान बंद कर लीये और मदद के लीये चिल्लाने लगी. तभी एक
झन्नाटेदार थप्पड़ मेरे गलों पर पड़ा.

“साली. रांड. चील्लाती है. एक तो श्याम का पता नहीं बता रही है और
पूछताछ में चिल्लाती है,” कहते हुये थानेदार मेरी साड़ी को खींचने लगा
और बोला, “चिल्ला. जीतना चिल्लाना है चिल्ला. देखता हूँ मैन कौन आता है
इधर.”

मैन बेबस चिल्लाना भूलकर अपनी साड़ी को उससे छुडाने मे लग गयी लेकीन उसने
अपने दम पर मेरी साड़ी को मेरे बदन से अलग कर दीया. अब मैन अपने पेतीकोअत और
ब्लौस मे उसके सामने रोते हुये खडी थी. अपने हाथो को अपने सीने से लगा कर
रखा था लेकीन थानेदार ने मेरे एक हाथ को पकड़कर उल्टा मोड़ दीया तोः दरद
के मारे अपने दुसरे हाथ से उसको छुडाने लगी. इस्सका फायदा उठाते हुये उसने
मेरे ब्लौसे के सामने के सारे हूक झटक कर तोड़ दीये. अब मेरा ब्लौसे एक-दो
हूक के सहारे झूल रहा था.

अपने दुसरे हाथ से जब ब्लौस को बचने गयी तोः बेदरद थानेदार ने मेरे
पहले वाले हाथ को और जोर से मोड़ दीया. मैन दर्द से कराह उठी और ब्लौस को
छोड़ अपना हाथ छुड़ाने की कोशिश करने लगी. इस्सी तरह करते हुये उसने मेरा
ब्लौस और मेरी चोली दोनो को मेरे बदन से जुदा कर दीया. अब मैन अपने दोनो
हाथों से अपने दोनो मुम्मो को छुपाते हुये इधर से उधर दौड़ने लगी. लेकीन
थानेदार हँसता हुवा मेरे पीछे-पीछे भागता हुवा कीसी भी तरह से हाथ
को छुदाता और मेरे मुम्मो को मसल देता. मैन चीख कर दया की बीख माँग
कर अपने को बचाती और भागती. ऐसे में थानेदार को मज़ा आ रहा था और
मैन रोती हूई इधर-उधर भाग रही थी.

यह कहानी भी पड़े  गांव की देसी भाभी की मालिश और चुदाई

थोड़ी देर खेल ऐसे ही चलता रहा. फीर थानेदार ने मुझे छोड़ मेरे जमीन
पर पडे ब्लौस और चोली को उठा कर उन्हें सुन्घ्ता हुवा अपनी डेस्क पर गया और
पैग बनाकर और दारु पीने लगा. फीर कुछ रूक कर मुझसे पूछा, “तू भी
पीयेगी?”

“……”

“आरे पी ले. नशे में बड़ा मज़ा आता है चुदवाने में.”
मैन जोर से रो पडी. मेरे आंशु थमने के नाम ही नही ले रहे थे. मैंने
गिद्गीदते हुये कहा, “मैंने क्या बिगाड़ा है तुम्हारा. क्यो मेरी इज़्ज़त के पीछे
पडे हो?”

“तूने नही बिगडा. तेरे नशीली हुस्न ने बिगाड़ा है मेरा,” कहते हुये अपनी पैंट
की चेन पर हाथ रखते हुये बोला, “देख कैसे फाड़- फाडा रहा है लंडवा मेरा.
इसका बिगडा है तेरी जवानी को देख कर. अब इसको ठण्डा कर….”

उसका लंड पैंट के ऊपर से ही ताना हुवा दीख रहा था. मानो पैंट को फाड़ कर
बहार आ जाएगा. अपनी जवानी को अब लूटने के करीब देख कर मेरा धीरज जवाब
देर रहा था. मैन अपने को बचने के लीये जोर से चिल्लाई, “कोई है…. बचाओ
मुझे…”

थानेदार दारु की बोत्त्ले पकड़े हुये मेरे पास आया और फीर जोरदार का थप्पड़
मारा. इस बार उसने दारु की बोत्त्ले उठा कर जोर से बोला, “चुप होती की साली या
मारू इस बोत्ल को तेरे सीर पर.”

मैन एक दम से चुप्प्प्प्प्प्प.

फीर उसने मेरे सीर को पकड़ कर बोत्त्ले मेरे मुहं में लगा दी. मैन अपना मुहं
हीला-हीला कर बोत्त्ले से अपने मुहं को हटाने की कोशीश करने लगी लेकीन उसने
जबरदस्ती करके डेड-दो पैग मेरे अंदर उधेल ही दीया. छाती जलने लगी. उबकाई
आने लगी. सीर चकराने लगा. पेट गरम हो उठा. पहली बार दारु पेट में गयी
थी. चिल्ला रही थी लेकीन थानेदार हंस रहा था.

यह कहानी भी पड़े  दोस्त की नखराली बहन की चूत फाड़ी

बोत्ल का जो कुछ भी बचा-खुचा था वोह थानेदार ने पी लीया और बोत्ल को
अपनी डेस्क के नीचे लुढ़का दीया. फीर सीधे मेरे ऊपर चढ़ कर मेरे मुम्मे को
मसलने लगा. दोनो हाथो में मेरे दोनो मुम्मे. आटे की तरह गुन्थ्ने लगा. फोकट
का माल जो मील रहा था. दारु अंदर जाने के बाद ऐसे हमले के लीये मैन तयार
नही थी. और अपने आप को बचा नही पा रही थी. उसने एक मुम्मे को अपने हाथ
में पकड़ दुसरे मुम्मे को अपने होंठों के बीच ले चूसना शुरू कर दीया. मेरे
संतरे उसके लीये चूसने वाले संतरे बन गए.
मैन दारु के झटके खाती हूई अपने हाथ से अपना सीर पकड़े हुये थी. अपना
बचाव भी नही कर पा रही थी. तभी दुसरे हाथ से थानेदार ने मेरे
पेट्तिकोअत के नाडे को झटके से खोल दीया. मैन मानो नींद से जाग उठी. ना जाने
कितनी ताक़त आयी होगी मुझ में जो थानेदार को अपने ऊपर से नीचे गीरा कर
उठकर भागने लगी. लेकीन अफ्शोश. खुला हुआ पेट्तिकोअत मेरी टांगों में फँस
गया और मुहं के बल धदम से जा गीरी. मेरी रही-सही सारी ताकत खतम हो
गयी.

Pages: 1 2 3 4 5

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


Saheli ke sexy pati se chudi suffer maiहिंदी सेक्स कहानी घर की auratu की chuadichudakkad bua ne lund muh me liya ki kahaniहिंदी सेक्से दीदी की मोठे मोठे गण्डantarvasna maharashtaraSuman ki chudi xxx hindi khaniKhet Mein ghamasan Chudai man beta Hindi sex kahaniनोकर को दीदी को ठोकते देखाmami ke sath bathroom mein sex storyhinden.moti.ghandvali.bulu.filmmere stress ko brte ne mitaaya chudai storybeeg करवा चौथ की चुदाईमाझी खाज सेक्स स्टोरीGarwali sexy kahniमा के साथ प्रिंसिपल अन्तरवासन कहानियां भैया कि रखैल चूदाई की कहानी mutane ki kahaniआंटी की सलवार चुदाई कथानसो की XXXकहानियासविता भाभी को अशोक के चाचाजी ने चोदाअन्तर्वासना सेक्सी सफर कहनिया ट्रैन मईVidhwa Chut ki pyas nahi bhujihindi sex kahani shabi riston main hairy chudai in hindi sex kahaniyaनादान दुल्हन की चुदाई की स्टोरीdidi ka chudai se ilaaj kiyaकाकी की चुदाई की कहानीमराठी माँ चुदायी कहाणीjalidar bra ma anti babhi ko badrum ma coda kahaniyatra me risto me hue chudai ka hindi storyma kee seksee khanee 10 Hindee me likhyeroleplay करके biwi ki chudairajsarma sexstoreyskahani ek sath 3 chut fadi muslim ladkiyo kiदर्द से तड़पती आंटी सेक्सी मूवीस bathroom mai bua ko kase dekh sex khaniरिश्तोंमे वाईफ स्वापिंग सेक्स स्टोरीमम्मी को बेटे ने 11इच के लौडे से चोदा सेकस ईटोरीmera pehla gangbang chudai storyरात भर लडकेने चुदाई किया खेतमे काहानिKomal na apana bahi sa cudvaya xxx kahaniबूढ़ी नौकरानी के साथ चुदाई की कहानियांxxx video chotye bacchhee ka maa ke sathsasu maa ko boor chudwane ki kahaniएक रानी चुत चुदाई की राजा नेकहानीचुदाइकोमल और बाप की चुदाईसाले की बीवी ने लंड खड़ा किया part 2 sexstoryमेरी सहेली की माँ parts sex story mere प्यारे डैडी part 3जब मां की ब्रा लेकर मुठ मारी हिंदी सेक्सी स्टोरीकुछ भी कर के अब तो मुझे उस से चुदना ही था। मैं तरकीब सोचने लगी।ma ne muskurate hue chudai ke liye tyarचूत मारते लङकी चिखते हुए इमेजhindi jisam ki sacchi khaniDidi ki rat me penty ko fhad ke rat bhar khub choda jamke बूढ़ी नौकरानी के साथ चुदाई की कहानियांजीजा जी फौज में bahin ki chudaiचुत सुज गई चोद केआआआआहह।मुह मे मूत पेशाब पी sex story ,sexbaba.netदीदी चुदवा रही थीबाई कि चडडी उतारी चूदाईखामैस चुदाई की कहानीयाbhabi n mutna sikhaya kahniकविता की चुड़ै शर्ट मेंहिंदी तेल मालिश और सामूहिक चुदाई की नई गरम कहानियाAntarvasna gaand me dildo lasboमहिलाओ की सेक्सी चुड़ै कहाणीआkuarichutगाङ मारभैया Tidatin pornchachi kijabarjasti chodai saree meहिरोइन बनने के चक्कर में भाई से पेलवाईcoot par land ragadkr codnaविधवा भाभी की रातदोस्त की काली माँ sex storyमूसल लन्ड ने बेहरहमी की चुदाई कहानियाanjali ki chudai rajai main hindi story kahanimumiy ne shadi कर deya neya bap सैक्स storihindi jabarjadte scx kahanixxx villej ke kheto me photoअन्तर्वासना हिन्दी सेक्स स्टोरी बस और ट्रेन में बेटी के सामने चोदशादी शूदा छोटी बहन की ससूराल मे चूदाईanravasna sex sorty handi pik Randi ki khahani.pdf downloadhttps://otkrivashki.ru/teatroporno/usha-ki-sex-kahani-10/5/www.hindi me sexse kok shastir.comअदिती बहु चुदाई