बड़ी दीदी के साथ मज़े की बात

फिर दीदी कुछ देर बाद उठकर बाथरूम में चली गयी और फिर मैंने भी उनके चले जाने के बाद अपनी टीशर्ट और अंडरवियर को उतारकर में सिर्फ़ पेंट पहनकर पलंग के एक कोने में कंबल को अपने ऊपर खोलकर तकिए पर मैंने अपना सर रखा और में लेट गया। मेरे लेटने के कुछ देर बाद मेरी दीदी बाथरूम से वापस बाहर आ गई और वो पलंग के दूसरे हिस्से में अपने कूल्हों को तकिए से चिपकाकर बैठकर अपने बाल सवारने लगी, फिर मैंने अपना चेहरा दीदी की तरफ घुमाया तो अचानक मैंने देखा कि दीदी के पेटीकोट के नाड़े के नीचे पेट की तरफ जेब की तरह कुछ हिस्सा खुला हुआ था जिससे दिखाई दे रहा था कि दीदी ने अपनी पेंटी को निकाल दिया था और अब उनकी अंदर की गोरी चमड़ी पर थोड़े से लंबे काले बाल मुझे दिख रहे थे और फिर दीदी अपने पैरों को पलंग पर रखते हुए बोली क्यों बहुत ठंड है ना मेरू? और अपने आप को मेरी तरफ करके कंबल को साइड से ऊपर करके मेरी तरफ मुस्कुराकर दीदी ने अपनी एक जांघ को मेरी कमर पर रख दिया अपने एक हाथ को सीधा करके मेरे बदन के ऊपर रखा और अपना दूसरा हाथ बिल्कुल छोटा बच्चा समझकर मेरी कमर पर पकड़ बनाते हुए अपनी गरम गरम सांसो को मेरे चेहरे पर छोड़ते हुए उन्होंने अपनी दोनों आखों को बंद कर लिया। फिर मैंने महसूस किया कि उस समय नीलू दीदी की मोटी मोटी गरम जांघे मेरी जांघो से एकदम चिपकी हुई थी।

मेरे दोनों हाथ मेरी और दीदी की छाती के बीच दबे हुए थे और मेरा पेट दीदी के मुलायम पेट के साथ चिपका हुए था और मेरा मोटे आकार का लंड अब कड़क होकर दीदी के बदन को छू रहा था। अब मैंने अपने आप को एक बच्चे की तरह अपना एक हाथ ऊपर निकालकर अपनी उँगलियों को खोलकर नीलू दीदी के उभरे हुए बूब्स पर अपनी हल्की पकड़ बनाते हुए अपने चेहरे को दीदी के बूब्स पर रखकर अपने मोटे आकार के बिल्कुल कड़क लंड को दीदी की चूत के ऊपर सेट करके अपने आप को दीदी की तरफ धकेलते हुए में लेट गया और अब मेरे होंठ थोड़े से खुले हुए दीदी के बूब्स पर दब रहे थे और दीदी के गीले ब्लाउज का स्वाद मेरे मुहं में आ रहा था, जो मुझे धीरे धीरे बहुत गरम कर रहा था। अब मेरा लंड को दीदी के शरीर की गरमी उनके पेटीकोट के अंदर से महसूस हो रही थी और दीदी की मुलायम और गरम मोटी चूत अब मेरे लंड से पेटीकोट के अंदर से दब रही थी और अब मेरे लंड से बहुत सारा पानी निकल रहा था। फिर तभी अचानक से मेरे लंड को एक करंट सा लगा और में एकदम ठंडा होकर दीदी से चिपके हुए कब सो गया, मुझे इस बात का बिल्कुल भी पता नहीं चला।

यह कहानी भी पड़े  दोस्त की माँ ने चुदाई करवाई

फिर जब मेरी आंख खुली उस समय सुबह के 6 बज चुके थे और रूम के अंदर रोशनी भी आ चुकी थी। फिर मैंने अपने आप को दीदी की तरफ किया तो में क्या देख रहा हूँ कि अब दीदी का वो पेटीकोट उनकी कमर से ढीला होकर आधा नीचे सरककर उनकी गोरी जांघे और एक बड़ी सुंदर चूत को दिखा रहा था और हमारा वो कंबल कमर से नीचे चला गया था और दीदी इस बार मेरे बहुत करीब थी। में उनका यह नया रूप देखकर बहुत जोश में आ चुका था इसलिए मैंने जैसे ही अपना हाथ दीदी की नंगी चूत को छूते हुए सहलाता जा रहा था और मुझे यह सब करना बहुत अच्छा लग रहा था, क्योंकि यह मेरा पहला अनुभव था जिसके में पूरे पूरे मज़े अपनी सेक्सी दीदी के साथ लेना चाहता था कि तभी कुछ देर अचानक से दीदी ने अपनी आखें खोली और वो उठकर पलंग पर बैठ गयी। अब दीदी ने नीचे अपने पेटीकोट की तरफ देखा और वो उसको टाइट करती हुई पलंग से नीचे उतर गई।

फिर उसके बाद दीदी ने मेरी तरफ देखा, लेकिन मैंने अपनी दोनों आखें जानबूझ कर बंद कर ली। अब दीदी ने अपने बेग से टावल निकाल लिया और वो बाथरूम में चली गयी और फिर दीदी करीब 15 मिनट तक नहाने के बाद अपने बूब्स से जांघो तक उस टावल को अपने गोरे नंगे बदन से लपेटकर बाहर आ गई और उन्होंने मेरे पास आकर मुझे भी उठा दिया और वो मुझसे बोली कि मेरु चलो, अब जल्दी से उठो और बाथरूम में जाकर नहाकर बाहर आओ। तो में उनके कहने पर पलंग से उठ गया और तब मैंने बोला कि दीदी आप मुझे यह टावल तो दो, दीदी ने मुझसे कहा कि तुम पहले अंदर जाकर नहा लो उसके बाद तुम मुझे आवाज लगा देना, में इसको लेकर चली आउंगी। अब में उनकी बात को सुनकर उनसे हाँ कहते हुए सीधा बाथरूम में चला गया और मुझे बहुत अच्छी तरह से पता था कि अब दीदी अपने कपड़े पहनने वाली है इसलिए मैंने धीरे से बाथरूम का थोड़ा सा दरवाजा खोल दिया, जिसकी वजह से मुझे बाहर का वो सब नजारा दिखाई दे और तभी मैंने देखा कि अब नीलू दीदी बिल्कुल मेरे सामने टावल पहने पलंग के पास खड़ी हुई थी। उनको देखकर में बहुत अजीब सा महसूस कर रहा था जिसकी वजह से मेरा लंड भी अब अपना आकार बदलने लगा था और फिर मैंने दीदी को देखते हुए अपने तनकर खड़े लंड को अपने हाथ में पकड़ लिया। तभी दीदी ने धीरे से उस टावल को खोल दिया और उसको अपनी कमर पर बाँध लिया। फिर जैसे ही दीदी ने ऊपर से टावल को खोला तो उनके दो बड़े आकार और एकदम गोरे बूब्स जो थोड़े नीचे लटकते हुए बिल्कुल खुली हवा में दीदी की छाती पर झूल रहे थे और दीदी के भूरे कलर के निप्पल उनके पूरे बूब्स के ऊपर तने हुए खड़े थे। मैंने जब दीदी के निप्पल देखे में बहुत चकित हुआ क्योंकि इससे पहले मुझे उनके बूब्स और उनके इतने बड़े निप्पल होंगे मैंने कभी सोचा भी नहीं था। अब दीदी अपने एक छोटे से बेग से कोल्ड क्रीम निकालने के बाद वो उसको अपने चेहेरे और हाथों पर लगाने लगी और क्रीम लगाते समय दीदी के बड़े आकार के गहरे रंग के निप्पल थोड़े नीचे लटकते और उनके बूब्स नीचे झुकने की वजह से बड़े ज़ोर से हिलते हुए एक दूसरे से टकरा रहे थे जैसे वो एक दूसरे से लड़ाई कर रहे हो। अब मैंने यह सब देखकर जोश में आकर में अपने तनकर खड़े लंड को अपनी मुठ्ठी में पकड़कर मसलने लगा और धीरे धीरे हिलाने लगा। मुझे यह सब करने में बहुत मज़ा आ रहा था। फिर दीदी ने अपने बेग से एक काली कलर की ब्रा और गहरे हरे रंग का ब्लाउज बाहर निकालकर अपने बूब्स और छाती को उससे ढक लिया और उसके बाद दीदी ने अपनी कमर से उस टावल को हटाकर पलंग पर रख दिया और अब दीदी मेरे सामने सिर्फ़ अपने ब्लाउज में खड़ी थी।

यह कहानी भी पड़े  माँ के संग नंगा मसाज

Pages: 1 2 3 4

Dont Post any No. in Comments Section

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!

Online porn video at mobile phone


bahen ke chakkar me rat me maa chudi antarvasnaPatipatnisexstory.एनिवर्सरी पे चुदाईपतली लडकी कि चुतमाँ को छोड़ा तो सिसकियां निकल रही थी स्टोरी इन हिंदीporn video सास देख लेगीलंबे और मोटे लंड से चुदी आंटीmami ne dilwai kachchi kali hindi sex kahaniyanMaa ki chudai malish kahanipatni ne dilwayi nanad ka chut suhagrat sexy kahaniDidi ne kha chodega story xyz.लड़की की चूत मारीantervsna aunti or bhabhijism ki aag sexayमेरी बहन को दोस्त में रखेल बनायाxxxbt Aurat Godमाँगे गुद भरा सेकस चौदा चौदी विडिओ दिखाएभाई ने ट्रक में चोद दिया स्टोरीantarvasnasexivideoसविता भाभी की सचित्र सेक्स कहानीजवान बेटी को चोदना सिखायाhindi ghar me maa didi bua ke dildo se chudai kahanimeri.rani.choot.me.land.lo.desisavitaki sex aapviti kahaniBadee sali ki beti ki aantarvasnaभिखारी NE चाची ki chudaiबहन को ब्रा और पेंटी में देख चोद दियासुहागरात में दीदी को रखैल बना कर चोदाआटियो कि चुदाइ कि कहानिभैय्या मुझे चुदना हैएक रानी चुत चुदाई की राजा नेपति बदल कर चुदाई कीpatni ne pati se karai beti ki chudai lambi majedar kahaniyan sex storiesपुच्ची रसMishtichr xxx kolejXxx rishto me chotaispesal chut khani hindiमेरे नंगे लंड की मालिश कहानीमैं दीवानी चुदाईSexbaba shabana ki maवीधवा आन्टी की चुदाई बडे लंन्ड से चुदाई कथाहवेली मे चुदाई का मज़ाsex.cominehindiबरसात मे पूनम की चुद चुदाई पोरन कहानिभाभी देवर मित्रा सेक्स कहानीबूर मे पेलने वाला बहुत सारे फोटो आ जाये गनदे गनदे चुस रहै है हिरोइन Sex videosexbaba adhuri kahaniपति ने मुझको चुदबया सैक्सी कहनीtrain me chudai ki hindi kahanyपापा ने रगड़ कर चोदाचुदाईसेक्सी कहानिया ओडीयो हिदी बतैभाभी ने कहा चोद मेरी गांङbap ki mot beta ki zanat incestभाभी मां बहेन बहु बुआ आन्टी ने खेत में सलवार साड़ी खोलकर पेशाब टटी मुंह में करने की सेक्सी कहानियांx chaci ki gandi cudae batey kahanimeri mangalsutra apne land me lapet kar choda adio sex storikamuta com xxx storeतृप्ती दिदि सेक्स काहानिबुर को जीभ से चुदाई की कहानीkambali ko rat bhar chudai kiantervasanasexstories.comBiwi ko kirayedar se chudwate dekha sex storiesचुत का चुढाई कहानी बहु के साथ बङे पापा रजाई मेबाबा के सेक्सी कहानी लेटेस्टबरसात में माँ को छोड़ा सेक्स स्टोरीmeri nadan nanad hindi sex storyमामी ने लण्ड की सील तोड़ीBadi mashi ki ladki ke sath sex chudai storymadarchod.nada.khool.de.hindiपेटी कङोम खरीदा फिर चुदाईPorn storey kartoon comcie छूटे की चुदाई अपने हाथ सेbahnkr.jag.cudai.kahnyaबुआ की सील तोडीशेकश कदी नवीन बिबिXxx Bhan sasuralmi sexy indianramesh ne bahu se shadi kiya incest sex storiesहिदी मी xxxBp videoसेकसी जवान लङकी के चुटकलेजाबरदासती लडकियों कीचुदयी हिन्दी आवज मेअंकल का गरम लन्ड चूत में लियायात्री की चुदाईsas dmad sxiy khaney gande galesas dmad sxiy khaney gande galeTatty khane ki sexy kahaniyaAntarwasna sex gaaliyan maa उसने मेरी बीवी की चूत देख ली थीभाभीकी मस्ती सेक्स कथाchodai ki taklif kahaniKhidki se dekhi chudai kahaniyaभाई ने मेरे को चोदmashab ne medam ki choodai ki kahaniGarwali sexy kahni